Halshashthi Vrat Katha Aarti In Hindi

Product Summary

हलषष्ठी व्रत कथा हिंदी पीडीएफ डाउनलोड Halshashthi Vrat Katha in Hindi PDF Download Harchat Pooja Samagri List in Hindi Halshashthi Vrat Katha in Hindi PDF

₹350.00 ₹120.00

Get 4% Cashback

Compare Prices at other stores

Store Price Cashback Buy
Amazon ₹120.00 Get 4% Cashback
Flipkart ₹199.00 Get 4% Cashback

Product Description

हलषष्ठी व्रत कथा हिंदी पीडीएफ डाउनलोड Halshashthi Vrat Katha in Hindi PDF Download: हर वर्ष हलषष्ठी व्रत सुख समृद्धि और संतान की लम्बी उम्र के लिए रखा जाता है ऐसे में हलषष्ठी व्रत कथा पीडीएफ प्रारूप में डाउनलोड करें साथ ही हलषष्ठी व्रत कथा भी यहा पढ़े

PDF NAMEHalshashthi Vrat Katha PDF | हलषष्ठी व्रत कथा
PAGE5
PDF SIZE0.61 MB
LANGUAGEHINDI, UPCOMING ENGLISH
CATEGORYHINDU DHARM
PUBLISH DATE28/09/2022
UPLOADEDINHINDILIVE.COM
WebsiteGita Press Books Online
Otherकरवा चौथ व्रत पूजा विधि इन हिंदी
Halshashthi Vrat Katha PDF DOWNLOAD

हलषष्ठी व्रत कथा हिंदी आरती

  • हलषष्ठी व्रत कथा हिंदी आरती पीडीऍफ़ डाउनलोड करें
  • इसके लिए कुछ दिन आपको इन्तेजार करना पड़ सकता है
  • जल्दी ही हलषष्ठी व्रत कथा आरती हिंदी में डाउनलोड लिंक शेयर किया जाएगा
  • पीडीऍफ़ फाइल हलषष्ठी व्रत कथा हिंदी आरती बनाया जा रहा है
  • इसमें थोडा समय लग सकता है

Halshashthi Vrat Katha in Hindi PDF

प्रिय भक्तो हलषष्ठी व्रत कथा की बात की जाएं तो कई कथा इस हलषष्ठी व्रत से जुड़ी हुई है ऐसे में हम आपको हलषष्ठी व्रत कथा जो प्रचलित है उसके बारें में जानकारी दे रहे है

हलषष्ठी व्रत कथा हिंदी पीडीएफ

एक राज्य में चन्द्रव्रत नाम का राजा रहता था राजा के एक पुत्र या संतान ही मात्र थी राजा अपने प्रजा एंव राहगीरों के लिए एक तालाब का निर्माण करवाया लेकिन इस तालाब में पानी कभी भरा ही नहीं ऊपर से तालाब के सुखा होने से जितने भी राहगीर तालाब से होकर गुजरते थे वह राजा को भला बुरा कहते थे

जब यह बात राजा को पता चली तो राजा बहुत दुखी हुआ क्योकि राजा का धन एंव धर्म दोनों का नुकसान हुआ ऐसे में एक दिन राजा नींद में स्वप्न देखते है जिसमे वरुण देव भगवान दर्शन देते है

वरुण देव भगवान् ने राजा से कहा अगर तुम अपने बेटे की बलि सूखे तालाब में दो तो पूरी तरह से तालाब भर जाएगा इस स्वप्न सुबह में दरबारी को भी सुनाकर, कहा भले ही धन और धर्म खराब हो गया है लेकिन मैं बेटे की बलि नहीं दूंगा

राजा का स्वप्न दरबारी से होते हुए बेटे तक किसी तरह पहुंची बेटा स्वप्न के बारे में जानकार अपनी बलि खुद का विचार बना लेता है

राजा का बेटा तालाब में जाकर बैठ जाता है उसके बाद तालाब पूरी तरह से भर जाता है लेकिन इस घटना से राजा दुखी होकर वन में चला जाता है

वन में राजा को पांच स्त्री व्रत करते हुए दिखाई दी फिर राजा ने स्त्रियों से इस पूजा के बारें में पूछा तो सभी स्त्रियों ने हलषष्ठी व्रत की सम्पूर्ण विधि –विधान बताया

स्त्रियों के मुख से हलषष्ठी व्रत की सम्पूर्ण विधि –विधान सुनकर राजा अपने राज्य में वापस आ जाता है फिर राजा अपनी पत्नी के साथ मिलकर हलषष्ठी व्रत किया इस व्रत की महिमा से राजा का पुत्र पानी से भरे तालाब से जीवित आ जाता है इस घटना के बाद से ही हलषष्ठी व्रत कथा एंव व्रत की परम्परा की शुरुवात हुई

Harchat Pooja Samagri List in Hindi

  • इस व्रत पर यानी हलषष्ठी व्रत या हर छठ पर पूजा सामग्री लिस्ट निम्नवत है
  • मिटटी के छोटे छोटे बर्तन या मटकी
  • मटकी की संख्या एक पुत्र होने पर सात मटकी ले
  • जब सात मटकी है तो सात दोना भी भरे
  • जिनके एक से अधिक संतान है वह दोंगा न भरे
  • उनका काम मटकी से भी चल जाएगा
  • इस व्रत को यानी हलषष्ठी व्रत करने के लिए सुहागन का सामग्री भी चाहिए
  • फल
  • मिठाई
  • कवच या काला धागा बच्चे की कमर पर बाँधने के लिए
  • कलावा
  • सुपाड़ी
  • आरती के लिए कपूर
  • हलषष्ठी की किताब
  • लाल चावल जो हल से न जुती हुई हो
  • महुआ
  • दही
  • कास की घास
  • नारियल
  • एक कलश इत्यादि

हलषष्ठी व्रत कथा हिंदी पीडीएफ डाउनलोड

  • हलषष्ठी व्रत कथा आपने पढ़ ही लिया होगा
  • अगर आप हलषष्ठी व्रत कथा पीडीऍफ़ डाउनलोड करना चाहते है
  • ऐसे में हलषष्ठी व्रत कथा की पीडीएफ डाउनलोड विकल्प पर क्लिक करे
  • उसके बाद आसानी से डाउनलोड हो जाएगा
  • डाउनलोड पीडीऍफ़ हो जाने के बाद हलषष्ठी व्रत कथा एंव पूजा विधि पढ़े

Similar Products

Leave a Review

Your email address will not be published.